फिर तार-तार हुआ गुरु-शिष्य का पवित्र रिश्ता
16 Apr 2014

 

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी रोहिणी के मेक्स फोर्ड स्कूल के म्यूजिक टीचर पर तीसरी क्लास की बच्ची से छेड़छाड़ का आरोप लगा है। पुलिस ने पीड़ित बच्ची के माता-पिता के दबाव में मामला तो दर्ज़ कर लिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, बच्ची की माता-पिता स्कूल के प्रिंसिपल से आरोपी टीचर के खिलाफ कई दिनों पहले लिखित शिकायत दी थी। लेकिन, आरोपी के खिलाफ स्कूल प्रशासन ने कोई कार्यवाई नहीं की।
 
जिसके बाद आज भारी संख्या में लोग स्कूल पहुंचे और स्कूल के खिलाफ करवाई की मांग की। स्कूल की प्रिंसिपल बच्ची के माता-पिता को धमका रही थी लेकिन बाद में पुलिस और मिडिया के आने के बाद प्रिंसिपल ने माफ़ी भी मांगी। रोहिणी सेक्टर 23 के मेक्स फोर्ड स्कूल जितना बड़ा और भव्य है इसके एक टीचर पर आरोप भी उतने ही गंभीर और  शर्मनाक है। इस स्कूल की तीसरी क्लास में पड़ने वाली एक मासूम बच्ची से यही के म्यूजिक टीचर ने छेड़छाड़ और अश्लील हरकतें की है। हद तो यह है की इस घटना की लिखित शिकायत स्कूल प्रशासन को कई हफ्ते पहले की गई और आरोपी के खिलाफ स्कूल प्रशासन ने कोई कार्यवाई नहीं की।
 
भरी संख्या में लोग स्कूल के बाहर इलाके के विधायक और निगम पार्षद के साथ जमा हुए। लेकिन प्रिंसिपल इनसे बात तक करने को तैयार नहीं थी। पुलिस को भी स्कूल पूरा सहयोग नहीं कर रहा है। मिडिया की टीम ने भी स्कूल की प्रिंसिपल से बात करने कोशिस की। काफी इन्तजार के बाद भी जब वह कमरे पर नहीं आईं तो मीडिया खुद ही प्रिंसिपल के रूम तक पहुँच गई। अंदर से गार्ड ने दरवाजे पर आकर बताया की वह किसी ने बात नहीं करना चाहती।
 
मामले में गुगन सिंह (स्थानीय विधायक-बवाना) का कहना है कि, स्कूल प्रशासन बहुत ही बदतमीज है और लापरवाह है। प्रिंसिपल भी बड़े ही अलग ढंग से बात कर रही है आरोपी का ही पक्ष ले रहे हैं। हम एजुकेशन डायरेक्टर तक इस मामले को ले जायेंगे और वह भी शिकायत करेंगे। मामले को लेकर देवेंदर सोलंकी (निगम पार्षद) का कहना है कि, स्कूल तो मंदिर होता है और यहाँ इस तरह के काम होना गलत है। बच्चे कहीं भी सुरक्षित नही है। स्कूल प्रशासन ने अभी तक कोई कार्यवाही नही की है उल्टा परिजनों को ही बाउंसरों से पिटवाने की बात कर रहे हैं हमारे साथ भी बदतमीज़ी की है।
 
फिलहाल बेगम पूरा थाना पुलिस ने आरोपी स्कूल टीचर के खिलाफ मामला दर्ज़ कर लिया है। लेकिन पैरेंट्स चिंतित है की ऐसे टीचर यदि उनके बच्चो के साथ रहेंगे तो इस तरह की घटनाएं होती रहेंगी। बहरहाल पैरेंट्स टीचर के साथ-साथ स्कूल प्रशासन के खिलाफ भी करवाई की मांग को लेकर अड़े है। इतने बड़े स्कूल में इतनी शर्मनाम घटना हो सकती है ये यकीन करना मुश्किल है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Share this post

Submit to Facebook Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn