गुजरात मॉडल से भगवान ही बचाए: सोनिया मेरे बयान को तोड़-मोड़कर पेश किया गया: रामदेव J&K: शोपियां में सेना-आतंकियों की मुठभेड़, 3 आतंकी ढेर पढ़ें...गुजराती चैनल को दिए इंटरव्यू में क्या बोले मोदी IPL-7: चेन्नई की जीत, मुंबई की हार की हैट्रिक पीएम मनमोहन सिंह के भाई ने थामा भाजपा का दामन केंद्र सरकार को दिल्ली हाईकोर्ट ने लगाई फटकार हनीमून, पिकनिक के लिए दलितों के घर जाते हैं राहुल: रामदेव IPL 7 : दिल्ली का फिर निकला ‘दम’, सनराइजर्स ने 4 रनों से हराया एक्टर इंद्र कुमार दुष्कर्म करने के आरोप में गिरफ्तार पति ने ही करा दिया अपनी पत्नी का बलात्कार डॉन छोटा शकील का शार्प शूटर पुलिस गिरफ्त में छः वर्षीय बच्चे का शव मिलने से क्षेत्र में फैली सनसनी पीएम दूरदर्शी नहीं हैं इसलिए उन्हें नहीं दिख रही है मोदी लहर: जेटली मनमोहन भूले हैं पंजाब का नमक, मैं नहीं भूलूंगा: मोदी नहीं सुधरेंगे...! पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन कोरिया: जहाज हादसे में मृतकों की संख्या 181 पहुंची बीजेपी प्रत्याशी, कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, तनाव
J&K पुलिस...! लड़कियों की पिटाई और उन्हें सड़क पर घसीटने में सदैव तत्पर
23 Apr 2014

 

श्रीनगर/डोडा: जम्मू-कश्मीर के डोडा में आज पुलिस की ज्यादतियों का दिल दहला देने वाला चेहरा सामने आया है। जहाँ पुलिस ने बेशर्मी की सारी हदें पार करते हुए न सिर्फ अपनी खाकी वर्दी का गलत इस्तेमाल किया है बल्कि, इंसानियत के रिश्ते को भी शर्मसार किया है। पुलिस ने बीच सड़क पर 6 लड़कियों से मारपीट की और इनके बाल पकड़कर इन्हें घसीटते हुए थाने तक ले गई।
 
पीड़ित लड़कियों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार वह अपने पिता व अन्य लोगों के साथ फार्म भरने जम्मू जा रही थी। रास्ते में अचानक कुछ पुलिस वालों ने बस रोका और इन्हें बस से नीचे उतार लिया। उसके बाद पुलिस ने इन्हें थाने चलने को कहा। लड़कियों के पिता ने पूछा कि, आप हमें थाने क्यों ले जा रहे हो? बस फिर क्या था साहब का दिमाग खटक गया और पिता के साथ-साथ लड़कियों को भी बीच सड़क पर मारना शुरू कर दिया। हद तो तब हो गई जब साहब लोगों ने लड़कियों के बाल पकड़कर उन्हें रोड पर घसीटते हुए थाने तक ले गए।
 
थाने ले जाकर इनसे कोरे कागज़ पर दस्तखत करने को कहा गया। लेकिन, लड़कियों ने साहब लोगों के द्वारा दिए गए आदेश को मानने से इंकार कर दिया। लड़कियां किसी तरह भागकर डोडा पहुंच गई। लडकियां सीधे कोर्ट में ही पहुंची थी। वहां इन्होने जज को मामले की बावत सारी जानकारी दी। जज ने घबडाई लड़कियों को देखने के बाद मामले को समझने में जरा भी देरी नहीं लगाई और मामले की जांच के आदेश जारी कर दिए।
 
मामले में पुलिस चुप्पी साधे हुए है। और कुछ भी कहने से मन कर रही है। यानि जहां लोगों को पुलिस से सुरक्षा की उम्मीद होती तो वही कुछ सुरक्षाकर्मी वर्दी का रोब दिखा कर ऐसे कारनामों को अंजाम देते है जिस से लोगों के मन में पुलिस के प्रति अलग ही छवि बन जाती है। तो ये है हमारी संवेदनशील पुलिस का घिनौना चेहरा। 

Share this post

Submit to Facebook Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn